thumb podcast icon

Puliyabaazi Hindi Podcast

U/A 13+ • News • Society & Culture • Government

This Hindi Podcast brings to you indepth conversations on politics, public policy, technology, philosophy and pretty much everything that is interesting. Presented by tech entrepreneur Saurabh Chandra, public policy researcher Pranay Kotasthane, and writercartoonist Khyati Pathak, the show features conversations with experts in a casual yet thoughtful manner.जब महफ़िल ख़त्म होतेहोते दरवाज़े के बाहर, एक पुलिया के ऊपर, हम दुनिया भर की जटिल समस्याओं को हल करने में लग जाते हैं, तो हो जाती है पुलियाबाज़ी। तो आइए, शामिल हो जाइए हमारी पुलियाबाज़ी में जहां हम एक से एक दिलचस्प विषय की तह तक जाएँगे, वो भी आम बोलचाल की भाषा में।

  • यह AI AI क्या है ? What can AI really accomplish?
    48 min 18 sec

    What’s the big deal about Artificial Intelligence How is it going to change our world Two engineering geeks set out to explain it all in simple language. This is episode 1 of PuliyaBaazi, a new podcast hosted by Pranay Kotasthane and Saurabh...

  • यह Republic क्या बला है ? What does a Republic mean?
    47 min 7 sec

    What does it mean to be a Republic Pranay Kotasthane and Saurabh Chandra discuss the nature of our constitutional republic in episode 2 of PuliyaBaazi. You can listen to this show and other awesome shows on the IVM Podcast App on...

  • Budget बेवफा! Why Budgets Disappoint.
    43 min 11 sec

    बजट पर इतना बावलापन क्यों अगर आप बजट बनाते तो क्या नया करते सुनिये कुछ विचार पुलियाबाज़ी के इस...

  • मसला-ए-जम्मू कश्मीर. The Politics of J&K.
    44 min 36 sec

    ७० साल बाद भी कश्मीर का मुद्दा सुलझता क्यों नहीं सुनिए इस पेचीदा मामले पर एक बेबाक चर्चा हमारे...

  • आज उधार , कल नकद. New Financial Lending in India.
    43 min 33 sec

    भारत में किफ़ायती क्रेडिट का आख़िर इतना अभाव क्यों है हर ‘मदर इंडिया’ जैसी कहानी में एक...

  • एक सवाल, कई जवाब: सरकार की टैक्स आमदनी कितनी होनी चाहिए? How much should the government's tax income be?
    15 min 29 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है सरकार की टैक्स आमदनी कितनी होनी चाहिए बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • एक सवाल, कई जवाब: सरकार को फिल्म टिकट की कीमत पर सीमा लगाना चाहिए? Should the government put a cap on the price of movie tickets?
    18 min 36 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है सरकार को फिल्म टिकट की कीमत पर सीमा लगाना चाहिए बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • भारत की नई सेमीकंडक्टर नीति. India's New Semiconductor Policy.
    1 hr 14 min 46 sec

    This Hindi Podcast brings to you indepth conversations on politics, public policy, technology, philosophy, and pretty much everything that is interesting.

  • एक सवाल, कई जवाब: सरकार सबसे ज्यादा किस पर खर्च करती है? What does the government spend the most on?
    12 min 54 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है सरकार सबसे ज्यादा किस पर खर्च करती है बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • एक सवाल, कई जवाब: भारत में चंदन इतना महंगा क्यों है? Why is sandalwood so expensive in India?
    11 min 42 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है भारत में चंदन इतना महंगा क्यों है बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • रेत का दिमाग़: मस्तिष्क से प्रेरित इंजीनियरिंग. Neuromorphic Computing ft. Chetan Thakur
    1 hr 6 min 18 sec

    Chetan Singh Thakur, an Assistant Professor at the Indian Institute of Science’s NeuRonICS Lab, is on Puliyabaazi to discuss Neuromorphic Computing.

  • एक सवाल, कई जवाब: भारी तादाद में विदेश से एमबीबीएस करने क्यों जाते है भारतीय छात्र? Why do Indian students go abroad in large numbers to do MBBS?
    14 min 35 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है क्या सम्पत्ति कर आर्थिक असमानता से निजात दिला सकता है

  • विज्ञान का विज्ञान। The Scientific Method ft. Nihar Shah
    1 hr 13 min 52 sec

    विज्ञान और अविज्ञान में क्या फर्क है क्या विज्ञान करने का कोई एक विशेष तरीका होता है

  • एक सवाल, कई जवाब: एक देश-एक चुनाव के बारे में कैसे सोचा जाए? How to think about One Nation-One Election?
    17 min 32 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है एक देशएक चुनाव के बारे में कैसे सोचा जाए

  • एक सवाल, कई जवाब: भारत को क्या चाहिए - आत्मनिर्भरता या आत्मशक्ति? India's need of the hour - Self Reliance or Inner Strength
    17 min 56 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है भारत को क्या चाहिए: आत्मनिर्भरता या आत्मशक्ति

  • एक सवाल, कई जवाब: क्या नशाबन्दी कारगर नीति है? Is Prohibition an effective policy?
    19 min 10 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है क्या नशाबन्दी कारगर नीति है

  • एक सवाल, कई जवाब: भारतीय सेनाएं पेंशन के खर्चे को कैसे घटा सकतीं हैं? How Can Indian Armed Forces reduce the cost of pension?
    25 min 53 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है भारतीय सेनाएं पेंशन के खर्चे को कैसे घटा सकतीं हैं

  • एक सवाल, कई जवाब: पेट्रोल पर कर इतना ज्यादा क्यों है? Why is the tax on petrol so high?
    19 min 37 sec

    पेट्रोल के दाम बढ़ना, जो एक समय पर दुर्लभ खबर होती थी, अब आम और रोज़मर्रा की बात होगयी है। पेट्रोल के दामों में बढ़ौतरी के कई कारण समय दर समय सामने आते रहे हैं। उसमें से एक है पेट्रोल पर लगता कर। ये कर इतना ज्यादा क्यो हैं

  • ChatGPT के बाद क्या? AI After ChatGPT
    31 min

    AI capabilities are advancing exponentially with softwares like ChatGPT. Are we advancing towards artificial general intelligence This week, on Puliyabaazi, we discuss an AI world after ChatGPT.

  • अपनी ज़मीन की कहानी। India’s Natural History Ft. Pranay Lal
    51 min 3 sec

    दक्षिण भारत की ज़्यादातर नदियाँ पूर्व की और क्यों बहती है कन्याकुमारी स्थित विवेकानंद मेमोरियल रॉक भूविज्ञान के नज़रिये से इतना ख़ास क्यों है और क्लाइमेट चेंज को रोकने में गंगा नदी का क्या महत्व है ऐसे ही कुछ अटपटे सवालों और उनके दिलचस्प जवाबों से भरी आज की पुलियाबाज़ी बायोकेमिस्ट और लेखक प्रणय लाल के साथ।  Join us on this conversation on India’s Deep Natural History with biochemist and author of the book ‘Indica’ Pranay Lal.

  • आज़ादी की राह: स्वदेशी बनाम खुले व्यापार की १५० साल पुरानी बहस। Historical Debate on Swadeshi vs Free Trade
    32 min

    In the week of India’s 77th Independence Day, we revisit the Azaadi ki Raah series where we explore ideas to understand how India was shaping up from the 1800 to the times leading to our independence. In this episode, we discuss the unfair trade policies in the 19th century that led to the Swadeshi movement, an idea that remains entrenched in India’s trade policy even today.

  • क्या भारतीय संविधान विशिष्ट वर्ग के लिए है? Is the Indian Constitution elitist?
    24 min 55 sec

    We often hear complaints that the Indian Constitution was written by a few elite politicians who were disconnected from the realities of Indian society. Was the Indian Constitution written by the elite Is it an elitist document Listen to our Puliyabaazi on this topic.

  • इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग में महारथ कैसे हासिल करें? Electronics Manufacturing in India
    40 min 55 sec

    What should be India’s policy to develop expertise in Electronics Manufacturing and emerge as an alternative to China in global supply chains

  • जातीय जनगणना होनी चाहिए या नहीं? Pros and Cons of a Caste Census
    40 min 38 sec

    Should caste census be conducted What will be its benefits Will it have any negative consequences Is there any other way to reduce inequality in our society This week on Puliyabaazi Hindi Podcast, we discuss the contentious issue of caste census.

  • दूध की कमी के पीछे क्या है कहानी? Broken Price Mechanism
    27 min 17 sec

    आजकल कर्नाटक से दूध की कमी की खबरें आ रही हैं, तो इसके पीछे माजरा क्या है Shortage और Price Mechanism के बीच में क्या कनेक्शन है क्या दूध जैसी आवश्यक चीज़ की कीमत बाज़ार प्रणाली पर छोड़ी जा सकती है या इसमें सरकार की दखल लाज़मी है सुनिए ये पुलियाबाज़ी और हमें बताइये कि आपको क्या लगता है।  This week on Puliyabaazi, we discuss the milk shortage in Karnataka. Should the government control the price for essential goods like milk or should it be left to the market Do listen in.

  • सरकार 2.0 कैसी हो? Govt.2.0: How Should It Be?
    18 min 46 sec

    क्या हो सकती है ऐसी संस्थाएं कैसे हो सकता हमारा देश और बहतर ऐसी ही कुछ विषयों पर सुनिए प्रणय और सौरभ की पुलियाबाज़ी। ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है सरकार 2.0 कैसी हो

  • Covid-19 ने कितनी जानें ली? How Many Lives Did Covid-19 Claim? ft. Mihir Mahajan
    43 min 47 sec

    इस एपिसोड में, हमने तक्षशिला इंस्टीट्यूशन में एडजंक्ट फेलो मिहिर महाजन के साथ बात की, जिन्होंने सार्वजनिक रूप से उपलब्ध बीमा डेटा का उपयोग करके COVID19 मौतों का अनुमान लगाया है। मिहिर ने भारत में मृत्यु पंजीकरण की प्रणाली का भी ब्यौरा दिया।

  • कभी हाँ कभी ना। India-US Relations ft. Seema Sirohi
    1 hr 2 min 40 sec

    In this episode of Puliyabaazi, we discuss the changing equations of IndiaUS relations with senior journalist Seema Sirohi.

  • संविधान सभा में महिलाओं का योगदान। Women in the Constituent Assembly
    27 min 53 sec

    On the occasion of Women’s day, we discuss the contribution of the eminent women who were a part of India’s Constituent Assembly. What were the issues that they focused on What were their stance on many debates that took place in the Constituent Assembly. Do listen in.

  • गुपचुप बातें. Politics of Secure Messaging.
    42 min 21 sec

    WhatsApp’s change in privacy policy attracted a lot of attention over the last couple of weeks. While some people migrated to Signal, most others ended up with all three WhatsApp, Telegram, and Signal

  • “कृषि दर्पण. Reality of Agriculture in India.
    1 hr 9 min 48 sec

    In the first Puliyabaazi By2 episode, Saurabh and Pranay take stock of the state of agriculture in India. Saurabh talks about his encounters with agricultural markets and horticulture farming in Karnataka. In the second section of the podcast, the hosts

  • चीन बनाम चौकड़ी | The Geopolitics of Quad.
    1 hr 23 min 40 sec

    After years of dillydallying, 2020 was the year when many states started working together to take on a common challenge: China. One such formation is the Quadrilateral Security Dialogue Quad. Though established in 2008, it’s only over the last couple

  • क़ानून की क्वालिटी परखें कैसे? Measuring the Quality of Indian Laws.
    1 hr 27 min 54 sec

    Our governments roll out many laws and regulations. When these laws fail to have the desired effect, we either blame the implementation deficit or the citizens.

  • भारत: एक भूजल सभ्यता। India: A Groundwater Civilisation.
    1 hr 14 min 28 sec

    India’s connection with groundwater is recorded as far back as the Indus Valley Civilisation. What are the consequences of relying on groundwater

  • अश्वशास्त्र. The Story of the Horse in India.
    51 min 26 sec

    The horse has been so central to human civilisation that the history of this majestic animal alone reveals a lot about our own past.

  • डेटा शोषण से बचे कैसे | Save yourself from data exploatation
    1 hr 1 min 12 sec

    Economist Ronald Coase said that “If you torture the data long enough, it will confess.” With data being used in narratives all around us, this quote has never been more salient.

  • भारत में बैंकिंग : हुंडी से सरकारीकरण तक. History of Indian Banking Part 1.
    1 hr 19 min 24 sec

    What’s the history of banking in India Do bank deposits lead to bank loans or is it the other way around Why did coastal Karnataka spring up so many private banks

  • चौड़े रास्ते या बेहतर सार्वजनिक परिवहन? | Can road widening solve traffic congestion?
    19 min 53 sec

    Will road widening by cutting trees at Sankey road in Bengaluru reduce the problem of traffic congestion in the area How should we tackle the problem of growing traffic in the long term क्या सिर्फ रास्ते चौड़े कर देने से ट्रैफिक की समस्या का निवारण हो जायेगा क्यों अक्सर रास्ते बड़े करने के बावजूद ट्रैफिक जाम ज्यों का त्यों रहता है इस काफ़ी पेचीदा विषय पर आज की पुलियाबाज़ी।

  • One Nation, One Charger. क्या हमें EU की नक़ल करनी चाहिए?
    30 min 36 sec

    क्या भारत को भी यूरोपीय देशों की तरह “एक देश, एक चार्जर” पॉलिसी अपनानी चाहिए क्या ग्राहकों को इससे कोई राहत मिलेगी किसी भी पॉलिसी को अपनाने से पहले उसे निष्पक्ष तरीके से कैसे परखा जाए। इसी विषय पर सुनिए हमारी ये पुलियाबाज़ी।  Should India have a “One Nation, One Charger” policy. Is it really going to solve the problem of ewaste In this week’s Puliyabaazi, we discuss the costs and benefits of mandating a single charger for the whole country.

  • पार्किंग नीतियों को बेहतर कैसे बनाया जाए? Lessons from a Parking Policy Reform
    28 min 42 sec

    In this Puliyabaazi, Pranay shares his observations and lessons learnt from a smart parking solution that panned out over time in his neighbourhood. Were the intended policy goals achieved What were the unintended sideeffects and the lessons learnt क्या रास्तों और सार्वजनिक जगह पर पार्किंग मुफ़्त होनी चाहिए क्या किया जाए ताकि सार्वजनिक पार्किंग स्पेस का ज्यादा बेहतर संचालन हो पाए।  इस पुलियाबाज़ी में प्रणय बताते है कि उन्होंने क्या देखा और क्या सीखा अपने शहर की पार्किंग व्यवस्था को देखकर।

  • क्या पुस्तकालय आज भी प्रासंगिक है? Public Library movement in India
    33 min 31 sec

    Are public libraries still relevant Should we revive public libraries in India If yes, who should do it We discuss India’s first public library movement and much more in this short Puliyabaazi. क्या पुस्तकालय आज भी प्रासंगिक है आख़िर सार्वजनिक पुस्तकालयों की ज़रूरत क्यों है सार्वजनिक पुस्तकालय सिर्फ पुस्तकालय का काम करते है कि कुछ और भी। इस “एक सवाल, कई जवाब” के अंक में हम पुलियाबाज़ी करते है भारत में सार्वजनिक पुस्तकालयों के बारे में।

  • हमारी शहरी सरकारें इतनी कमजोर क्यों है? The state of India’s Municipal Finances
    26 min

  • क्या भारत की निर्वाचन प्रणाली बदलनी चाहिए? Would Proportional Representation Work in India?
    29 min 20 sec

    भारत की “First Past The Post” निर्वाचन प्रणाली पर टीका टिप्पणी तो अक्सर सुनने को मिलती है। क्या“Proportional Representation” इसका विकल्प हो सकता है या फिर उसमें भी ख़ामियाँ हो सकती है इसी विषय पर “एक सवाल, कई जवाब” सीरीज़ का यह अंक।

  • सवाल रेवडीयों का! Does India Have A Freebies Problem?
    22 min 17 sec

    हाल ही में प्रधानमंत्री के रेवड़ी वाले कमेंट पर चिंगारी भड़की थी. अब ये इशारा पंजाब और दिल्ली की सरकार को था क्या ये निशाना सोच समझ के साधा गया था या बस ऐसे ही प्रधानमंत्री जी रेवड़ी खाना चाहते थे ऐसे ही कुछ विषयों पर सुनिए सौरभ और प्रणय की पुलियाबाज़ी

  • गोपनीयता से पारदर्शिता की ओर: कहानी RTI की. Capturing Institutional Change through the RTI Act.
    1 hr 5 min 59 sec

    किसी भी सरकार के बारे में आम धारणा ये है कि जब तक कोई आपदा न आए, सोच और नीतियों में बदलाव तक़रीबन नामुमकिन है।

  • आपातकाल की नीति. Social Protection in India.
    1 hr 24 min 34 sec

    Indian governments run hundreds of policies in the name of social protection. Given the adverse economic impact of COVID19, the focus is back on these policies to provide some relief to the worstaffected.

  • गांधी टैगोर की पुलियाबाज़ी. The Gandhi Tagore Debates.
    1 hr 10 min 48 sec

    Between 1915 and 1941, Gandhi and Tagore wrote many letters to each other freely expressing viewpoints and often disagreeing with each other on core issues such as nationalism,

  • ताईवान : चीन की दुखती राग. Understanding Taiwan.
    1 hr 11 min 20 sec

    Chinese Taipei. Republic of China. Taiwan. All refer to the same country that has stood up to the People’s Republic of China’s arrogance in recent years. So in this episode, we discuss all things Taiwan with Sana Hashmi sanahashmi1,

  • पाताल की होड़ : कविड 19 और नई विश्व व्यवस्था. Post-pandemic World Order.
    1 hr 25 min 44 sec

    In this episode, we discuss how COVID19 is likely to affect geopolitical and geoeconomic trends.

  • टेस्टिंग, वैक्सीन, और इम्युनिटी : कविड 19 इन्फेशन को ख़त्म कैसे करें? COVID-19 Vaccines, Testing, and immunity.
    1 hr 33 min 6 sec

    Pavan Srinath zeusisdead returns as a guest to discuss three key elements for overcoming Covid19: testing strategies, vaccination development, and societal immunity.

  • सरकारी तंत्र की काबिलियत के मायने. State Capacity in India.
    1 hr 7 min 46 sec

    How is it that Indian governments are good at conducting elections and organising Kumbh Melas but are terrible at maintaining public infrastructure Why does the Indian State seem to be omnipresent and inadequate at the same time

  • डिजिटल मायाजाल : वर्चुअल रियलिटी. Virtual Reality.
    57 min

    Virtual Reality, Augmented Reality, Mixed Reality, Extended Reality — these terms have been the town of the tech town for over half a decade now. So in this geeky episode, we discuss how these technologies are changing the world of entertainment and educ

  • वेंचर कैपिटल : क्या, क्यों, और कैसे. Venture Capital in India.
    1 hr 11 min 47 sec

    2019 was a recordbreaking one for Indian startups. Across sectors, companies raised more than 4 billion in venture capital last year. In fact, the first three quarters of 2019 alone witnessed the emergence of eight new unicorns valuation 1billio

  • राकेट राकेट. Rocket Science.
    1 hr 8 min 45 sec

    The events surrounding Chandrayaan2’s landing attempt captured India’s imagination earlier this month. This also gave us a reason to talk about Space on Puliyabaazi again. In our previous episode on space, we discussed . In this episode, we...

  • टिकट ख़रीदा रिज़र्व बैंक ने पर क्या लॉटरी लगेगी सरकार की? The Role of the RBI.
    1 hr 10 min 12 sec

    The tussle between the Reserve Bank of India and the Union government has only intensified over the last two years. Governor Urjit Patel resigned in December 2018 and Deputy Governor Viral Acharya resigned earlier this week. Though both of them cited...

  • हमारी राजनीती आख़िर ऐसी क्यों है? What Matters for Indian Voters?
    1 hr 19 min 21 sec

    2019 मतदान क़रीब है और राजनीति की हवा किस दिशा में बह रही है, इस पर हर भारतीय का अपना एक मत तो ज़रूर है...

  • Arthashashtra Part 1 : साम, दाम, भेद, दंड से परे.
    43 min 4 sec

    Real estate से लेकर business advice तक, कौटिल्य नीति को बिना सिर पैर उपयोग करने की होड़ लगी है आजकल अर्थशास्त्र को...

  • Raid के पीछे, एक टैक्स अफ़सर की ज़ुबानी. Story of Indian Taxation.
    55 min 4 sec

    मुंशी प्रेमचंद की कहानी ‘नमक का दरोगा’ एक ईमानदार टैक्स इंस्पेक्टर के सामने आने वाली...

  • परमाणु हथियार: इस ब्रह्मास्त्र से कैसे बचें ? Nuclear Weapons and India.
    56 min 1 sec

    इस साल के शुरू होते ही अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने एक ट्वीट में उत्तर कोरिया को चेताया था कि...

  • चीन : एक खोज - भाग 2. the Discovery of China Part 2.
    49 min 57 sec

    कहने के लिए तो चीन हमारा पडोसी देश है पर वास्तव में हम चीन के बारे में बहुत कम जानते है इस...

  • युवा भारत क्या चाहता है? What does Young India Want?
    35 min 26 sec

    भारत की आधी जनसंख्या २७ साल से कम उम्र की है इसीलिए यह जानना ज़रूरी है कि इस वर्ग के लोगों की...

  • Special Episode: संविधान का मुखड़ा
    16 min 56 sec

    The Preamble of the Indian Constitution has become a rallying point for lakhs of antiCAA and NRC protesters across India. The preamble is being read out every single day on the streets of several cities. However, the Hindi version of the Preamble is

  • बुंदेलखंड से उठती खबरों की एक लहर. A Bundelkhandi Women-run Media Network.
    54 min 12 sec

    इस बार की पुलियाबाज़ी भारत के एकमात्र ग्रामीण, नारीवादी न्यूज़ चैनल    के साथ २००२ में...

  • IL&FS से DHFL तक - क्यों लड़खड़ा रहे हैं NBFC? IL&FS to DHFL - Why NBFC is fluctuating
    52 min 10 sec

    भारत में तक़रीबन 90 बैंक है पर 10000 ग़ैरबैंकिंग वित्तीय कम्पनियाँ NBFC हैं जबकि दोनों संस्थाओं का एक ही...

  • लश्कर-ए- तय्यबा: कब, क्यूँ और कैसे. Lashkar-e-Tayyaba: Origins and Motives.
    1 hr 4 min 21 sec

    26 नवंबर 2008, मुंबई की दर्दनाक तस्वीरें आज भी दिल दहला देती हैं इस हमले को अंजाम दिया था पाकिस्तान...

  • एक नयी विश्व व्यवस्था के लिए भारत कैसे तैयारी करे? The New World Order and India.
    56 min 21 sec

    विश्व व्यवस्था के घटनाक्रम में हाल ही तीव्रता से बदलाव हुए हैं। अमरीका और चीन के बीच में 1971 से...

  • मिलिट्री-जिहादी कॉम्प्लेक्स:पाकिस्तान का दूसरा चेहरा. The Pakistani Military-Jihadi Complex.
    41 min 38 sec

    नवजोत सिंह सिद्धू की झप्पी ने बड़ा बवाल उठा दिया भारत में तो इस बार की पुलियाबाज़ी पाकिस्तान के...

  • सच की खोज: एक Archaeologist से मुलाक़ात
    1 hr 31 min 7 sec

    ये एपिसोड है पुरातत्वशास्त्र पर। सिंधु घाटी सभ्यता के बारे में आये दिन कई धारणाएं सुनने मिलती है।

  • आधा आसमां. Women Hold Up More than Half the Sky.
    1 hr 23 min 29 sec

    लैंगिक भेदभाव के बारे में हमारी आँखों पर एक पर्दा पड़ा रहता है. सर्वत्र होते हुए भी अक़्सर हम सब इसे अनदेखा करते है. इस एपिसोड में लेखिका महिमा वशिष्ट आँखों से पर्दा हटा कर कुछ कड़वे सच उजागर कर रही हैं.

  • जबरन का चंदा. Compulsory Philanthropy.
    51 min 12 sec

    In the next By2 series, Saurabh and Pranay discuss three things. One, a solution for changing incentives of government companies without an outright sale of all assets. Two, the absolute joy of seeing and hearing Mars courtesy NASA’s Perseverance.

  • दलित पूंजीवाद. Dalit Capitalism.
    1 hr 22 min 34 sec

    Wellknown journalist, author, and entrepreneur Chandran Bhan Prasad cbhanp is on Puliyabaazi to discuss his latest book What is Ambedkarism. Mr Prasad makes a case for capitalism as a way for achieving Dalit empowerment.

  • माहौल की महिमा। Why Narratives Matter?
    1 hr 10 min 4 sec

    Narratives are all around us. Whether its policy, politics, or the economy, the stories we tell and listen matter. In this Puliyabaazi, we discuss why narratives have the power to make the unreal real with economic historian and assistant professor at II

  • 1857 की लड़ाई का आँखों देखा हाल. An Eyewitness Account of the 1857 War.
    1 hr 9 min 44 sec

    It’s rare to find a narration of earthshaking political events by a commoner of those times. That’s precisely why Vishnu Bhat Godse Varsaikar’s Maazaa Pravaas is special. This book provides an eyewitness account of the 1857 mutiny

  • एक सवाल, कई जवाब: गणतंत्र दिवस कैसे मनाया जाए? How to celebrate Republic Day of India?
    15 min 33 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है गणतंत्र दिवस कैसे मनाया जाए बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • एक सवाल, कई जवाब: सरकार रक्षा पर कितना खर्च करती है? How much does the government spend on defense?
    12 min 52 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है सरकार रक्षा पर कितना खर्च करती है

  • एक सवाल, कई जवाब: क्या सम्पत्ति कर आर्थिक असमानता से निजात दिला सकता है? Can wealth tax solve economic inequality?
    21 min 13 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है क्या सम्पत्ति कर आर्थिक असमानता से निजात दिला सकता है

  • एक सवाल, कई जवाब: इलेक्ट्रिक गाड़ियों की बैटरी क्यों फेल हो रही है? Why are the batteries of electric vehicles failing?
    26 min 6 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है इलेक्ट्रिक गाड़ियों की बैटरी क्यों फेल हो रही है

  • पेंशन के मायने. Why the Fuss over Government Pensions?
    1 hr 26 min 3 sec

    एक पेंशन का हमारे पॉपुलर कल्चर में बड़ा महत्व है। बुढ़ापे में पेंशन का आश्वासन एक बड़ा कारण है जिसकी वजह से हर सरकारी नौकरी के लिए आवेदकों की भीड़ उमड़ पड़ती है।

  • महिला श्रमिक और अर्थव्यवस्था The Indian Women Labour Force
    1 hr 13 min 29 sec

    भारत की अर्थव्यवस्था में महिलाओं के योगदान पर अध्ययन करने की सख़्त ज़रुरत है।

  • एक सवाल, कई जवाब: भारत विश्वभर का इलेक्ट्रॉनिक सप्लायर क्यों नहीं बन पाया? Why India could not become the world's electronic supplier?
    17 min 59 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है भारत विश्वभर का इलेक्ट्रॉनिक सप्लायर क्यों नहीं बन पाया बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • एक सवाल, कई जवाब: सरकारी कंपनियों की संख्या क्यों बढ़ती ही जा रही है? Why is the number of government companies increasing?
    13 min 2 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है सरकारी कंपनियों की संख्या क्यों बढ़ती ही जा रही है बड़ी दिलचस्प कहानी है ये।

  • २०२२ को अलविदा और २०२३ के लिए कुछ भविष्यवाणी। Predictions for 2023
    36 min 58 sec

    २०२२ में आपने पुलियाबाज़ी को और अधिक प्यार दिया और हमें पहुँचा दिया Spotify के टॉप ५ पॉडकास्ट लिस्ट में।  तो इस हफ्ते पुलियाबाज़ी में हमने किया ब्यौरा २०२२ के हमारे पसंदीदा एपिसोड्स का और कुछ भविष्यवाणी की २०२३ के लिए।   तो सुनिए और बताइये कि आपको किस विषय पर हमारी बातचीत पसंद आयी और आगे कौनसे विषय पर आप और पुलियाबाज़ी सुनना चाहते है। अगर आपको हमारी बातें अच्छी लगती है तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करिये।   We wrap up this year’s Puliyabaazi with our reflections on the past year and some predictions for the coming year. Do not forget to check out our Best of 2022 playlist. If you like our conversations, please like, subscribe and share them with others.

  • भारत की Global Value Chains में हिस्सेदारी कैसे बढ़ाई जाए? Ft. Saon Ray
    1 hr 15 min 7 sec

    What are Global Value Chains and why have they become important in global trade What are the factors impending India’s integration into GVCs This week in Puliyabaazi, we try to understand policies for improving India’s integration into global supply chains with economist and Visiting Professor at Indian Council for Research on International Economic Relations ICRIER Dr. Saon Ray.  इस हफ्ते हमने बात की ICRIER की प्रोफ़ेसर शावन रे के साथ ये समझने की लिए कि आखिर ये Global Value Chains है क्या और भारत की इन में हिस्सेदारी कैसे बढ़ाई जाए

  • कॉमिक्स और एनिमेशन ख़ालिस देसी अंदाज़ में। Comics and Animation in India ft. Sumit Kumar
    1 hr 9 min 29 sec

    The Indian comics industry saw its golden age in the 90s with homegrown characters like Chacha Chaudhary, Nagraj and SuperCommando Dhruva becoming popular. In this episode we try to dive into Indian comics animation industry with cartoonist Sumit Kumar.

  • राज्य के बीच निवेश के लिए मुक़ाबला कैसा होना चाहिए? What makes Competitive Federalism Work?
    30 min 9 sec

    राज्यों के बीच निवेश आकर्षित करने के लिए मुक़ाबला कैसा होना चाहिए इसके क्या फायदे है और क्या नुकसान क्या निवेश के बदले में दी जाने वाली तगड़ी टैक्स छूट वाज़िब है इस बार “एक सवाल, कई जवाब” के इस अंक में हमने बात की कॉम्पिटिटिव फेडरलिस्म यानी पर।

  • अमरीका-चीन चिप युद्ध का क्या होगा अंजाम? What will be the fallout of the US-China Chip War?
    32 min 55 sec

    US और चीन के बीच का रिश्ता खट्टा मीठा सा रहा है. अमेरिकाचीन संबंधों का भविष्य क्या है क्या यह चिप युद्ध कभी खत्म होगा ऐसे और ऐसे और भी भी बहुत से विषयों पर, सुनिए इस हफ्ते की पुलियाबाजी.

  • पानी की असली क़ीमत जानना ज़रूरी क्यों है? What's the Real Cost of Free Water?
    27 min 49 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है पानी की असली क़ीमत जानना ज़रूरी क्यों है

  • UPI का खर्चा किसे उठाना चाहिए? Who should pay for UPI?
    25 min 41 sec

    हाल ही में सुनने में आया था की सरकार हर UPI के द्वारा हुई payment पर एक Extra Fee लागू करने का सोच रही है. क्या हो सकती है ये fee क्या इससे UPI के लोकप्रियता पे फर्क पड़ेगा ऐसे ही कुछ विषयो पर सुनिए आज की पुलियाबाज़ी.

  • नई कृषि कानून : आज़ादी या बोझ? The New Farm Laws.
    1 hr 24 min

    What do the recent changes in agricultural laws mean for farmers Will these changes unshackle the agricultural sector or do the problems lie elsewhere

  • भारत में बैंकिंग : राजे-रजवाड़ों से उदारीकरण तक. History of Indian Banking Part 2.
    1 hr 14 min 26 sec

    In this second and final episode on India’s banking system, we pick up some more interesting strands of India’s monetary history. We are joined again by Amol Agrawal mostlyeconomics, Assistant Professor at Amrut Mody School of Management, Ahmedabad Un

  • भारतीय सेनाएँ ताल से ताल कैसे मिलाएँ? Jointness in India's Armed Forces.
    1 hr 4 min 43 sec

    Even today, India’s armed forces largely conduct their operations in silos. It is for this reason that the Chief of Defence Staff position was created and specifically mandated to create integrated theatre commands that would allow systematic cooperatio

  • आत्मनिर्भरता की आड़ में लाइसेंस राज की वापसी? Can Self-reliance be an Excuse for Licence Raj?
    27 min 51 sec

    Is dependence on other countries for natural resources always a sign of vulnerability Is selfreliance for natural resources or goods a fair justification for introducing licences What lessons can we learn from the EU successfully navigating the threat of fuel shortage from Russia

  • रोशनी का तकनीकी इस्तेमाल। Applied Photonics ft. Sonali Dasgupta
    54 min 54 sec

    This week, we have a technical Puliyabaazi on the topic of Applied Photonics with our guest Sonali Dasgupta who is a career research scientist and a science communicator. We discuss what’s new and upcoming in the field of photonics, the state of the research ecosystem in India and how to create more opportunities in fundamental research in India. We learnt a lot of new things from this conversation and we hope that you will also find it enriching. Do listen in and share your thoughts with us.

  • लोकनीति में जटिलता को कैसे समझें? Complexity theory for Public Policy
    35 min 31 sec

    This week, we go beyond isomorphic mimicry and try to understand the “Why” behind the copycat policymaking. We try to understand how complex systems work and why we should approach policymaking with a lot of humility. Do listen in.

  • चीन की विश्वगुरु हसरतें। How China plans to change the world order? Ft. Manoj Kewalramani
    47 min 58 sec

    China has recently launched the Global Development Initiative, Global Security Initiative and Global Civilization Initiative. What are China’s objectives with these programmes and how should they be interpreted by the world To understand this, we speak to Manoj Kewalramani, who is FellowChina Studies and the Chairperson of the IndoPacific Studies Programme at the Takshashila Institution.

  • आंतरिक सुरक्षा: हालचाल ठीक-ठाक है? Internal Security in India ft. Devesh Kapur & Amit Ahuja
    1 hr 8 min 5 sec

    Maintaining internal security and law order is the core responsibility of the state. How has the Indian state approached this objective How has India’s state capacity matured in tackling internal security challenges This week on Puliyabaazi, two brilliant political scientists Devesh Kapur and Amit Ahuja join us to discuss their book ‘Internal Security in India Violence, Order and the State’. We found this to be a very insightful conversation. Do listen in.

  • संसद को सुदृढ़ कैसे करें? Strengthening India’s Parliament Ft. M. R. Madhavan
    44 min 47 sec

    इस हफ़्ते नयी संसद बिल्डिंग के उद्धघाटन के अवसर पर हम बात करते है कि हमारी संसद की कार्यप्रणाली को बेहतर कैसे किया जाए इस विषय पर पुलियाबाज़ी पर हमारे साथ जुड़े PRS लेजिस्लेटिव रिसर्च के को फाउंडर M R Madhavan

  • भारत की जनसंख्या: विस्फोट या वरदान? Is India overpopulated?
    34 min 19 sec

    This week on Puliyabaazi Hindi podcast, we discuss the implications of India becoming the most populous country in the world. Will our young population bring us a demographic dividend as other countries grow old Are we doing enough to take advantage of this opportunity We discuss this and more. Listen in.

  • क्या भारतीय राज्यों की अपनी विदेश नीति होनी चाहिए? Should Indian States Engage in Economic Diplomacy?
    13 min

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक और अंक है। इस बार का सवाल है क्या भारतीय राज्यों की अपनी विदेश नीति होनी चाहिए

  • लोकनीति सरल शब्दों में। Making Public Policy Interesting Again Ft. Raghu Jaitley
    59 min 4 sec

    प्रणय कोटस्थाने और रघु जैटली ने उनकी नयी किताब ‘Missing in Action’ के ज़रिये लोकनीति जैसे मुश्किल विषय को मज़ेदार बनाने की कोशिश की है। आज की पुलियाबाज़ी में हमारे साथ जुड़ते है रघु जैटली अपनी नयी किताब और उस से जुड़ी दिलचस्प बातें शेयर करने। सुनियेगा ज़रूर।  This week on Puliyabaazi, Raghu S. Jaitely and Pranay Kotasthane share wonderful nuggets from their new bestseller book “Missing in Action”.

  • नारीवादी आंदोलन। The many waves of Feminism
    43 min 19 sec

    This week on Puliyabaazi, Khyati and Saurabh discuss the different ideas that emerged with the many waves of feminism. Where does the Indian feminist movement fit in this framework Why is India still lagging in many indicators related to women’s participation in the economy Do listen in.

  • विदेश मंत्रालय की कार्यक्षमता को कैसे बढ़ाएं? Agnipath for IFS
    20 min 18 sec

    With changing geopolitics and technology, many government ministries have to deal with increasing levels of complexity. How can the government increase its state capacity in these areas within a short span of time. Today’s Puliyabaazi explores this topic.

  • हिंदी-उर्दू : इतिहास और राजनीतिकरण. Hindi Urdu Unity.
    1 hr 28 min 29 sec

    This Puliyabaazi is a deep dive on the Hindi language the origins, relationship with Urdu and Sanskrit, and about concerns over its imposition. We are joined by Abhishek Avtans

  • चीन से कैसे निपटे? How to Address the China Threat.
    1 hr 1 min 53 sec

    षि जिनपिंगसंचालित चीन के अहंकार को तोड़ने के लिए भारत के पास क्या विकल्प है चीनी कम्पनी के ऐप्प बैन करने के कदम के क्या फ़ायदेनुक़सान है

  • मानसिक आरोग्य और हम. Importance of Mental Health.
    1 hr 22 min 15 sec

    In this episode, we spoke to Manoj Chandran manoj1chandran, CEO of White Swan Foundation — a notforprofit organisation that offers knowledge services in the area of mental health.

  • भारतीय अर्थव्यवस्था में जान कैसे फूकें? Reviving the Indian Economy.
    59 min 2 sec

    In this episode, we discuss India’s economic trajectory before, during, and after COVID19 with Ajit Ranade, Senior Fellow at the Takshashila Institution.

  • राजनैतिक दल, सोशल मीडिया, और टेक्नोलॉजी. Internet Politics.
    1 hr 15 min 54 sec

    How and why do Indian political parties use digital platforms such as Twitter even though only a small percentage of the Indian population is on this platform Is a technosavvy image a bane or a boon for a politician in India

  • महामारियों का कहर और भारत की तैयारी. India and the Pandemic.
    1 hr 27 min 43 sec

    The world is still trying to figure a way out of the coronavirus outbreak. So in this episode, we take a step back and discuss common epidemics in India — their reasons, cures, and preparedness. Joining us is Shambhavi Naik, a cancer biologist and fellow

  • पकोड़ानॉमिक्स : फेरीवालों की व्यथा. Street Vending in India.
    1 hr 18 min 38 sec

    Street vendors are a quintessential part of Indian cities. Yet, their right to carry out their trade in public spaces is hampered by inherent class bias and state corruption

  • पूर्वोत्तर भारत - अंदर कौन और बहार कौन? Insider-Outsider Politics in North East India.
    55 min 9 sec

    The National Registry of Citizens NRC has been in the national news recently. So in this episode, we take a step back to understand the causes and dynamics of insideroutsider tensions in NorthEast India. Joining us is author and journalist ,...

  • सरकारी काम इतना रुलाते है, सब बेच डालें क्या? Reforming Government Organisations.
    53 min 10 sec

    The debate on governmental reform often takes one of these three turns: privatization, nationalization, or devolution. But none of the three narratives provides a comprehensive framework for reforming government organisations. For example,...

  • ज़िन्दगी की चाबी. Gene Editing.
    1 hr 29 min

    कुछ ही महीनों पहले चीन के एक वैज्ञानिक ने जीनोमएडिटिंग का उपयोग कर जुड़वां बच्चियाँ बनाकर पूरे...

  • परदेसी परदेसी जाना नहीं. Migration in India.
    59 min 53 sec

    ‘मेरे पिया गए रंगून, वहाँ से किया है टेलीफून” याद आया न यह गाना लेकिन आपने सोचा कि इनके पिया आख़िर...

  • धरती के बर्फीले छोरों से कहानी Climate Change की.
    1 hr 0 min

    जलवायु परिवर्तन climate change के भीषण प्रभावों पर आंकड़े तो स्पष्ट हैं लेकिन फिर भी हम और हमारी सरकारें...

  • भारत को इनोवेटिव कैसे बनाये? Making India a Research Power.
    50 min 58 sec

    जसपाल भट्टी के फ्लॉप शो का वह एपिसोड तो याद होगा आपको जिसमें एक PhD student और उसके गाइड की जद्दोजहद को...

  • स्वचालित गाड़ी भारत में चलेगी? Self-driving vehicles on India's Roads?
    1 hr 5 min 29 sec

    The future of mobility is autonomous. But it’s hard to imagine that future in Indian conditions where roads occupy spots between potholes, the traffic pattern is Brownian, and nonverbal communication is a lead indicator of vehicular movement. So in...

  • झूठी खबरों का असली सच. Fake News in India.
    1 hr 22 min 47 sec

    Fake news, disinformation, misinformation, and social media manipulation — these are elements of perhaps the most significant global story of these times. And yet, this phenomenon remains underexplored. We do not fully understand what causes people...

  • स्वतंत्र भारत में मतदान की कहानियाँ. How India Conducts Elections.
    1 hr 5 min 57 sec

    2019 के लोकसभा चुनाव नज़दीक आ रहे है अगले कुछ महीनों में हर नुक्कड़गली में “कौन बनेगा...

  • अम्बेडकर के जातिप्रथा पर विचार: भाग १. Ambedkar on Caste Part 1
    43 min 34 sec

    गणतंत्र दिवस के अवसर पर हम भीमराव अम्बेडकर के योगदान को अक़्सर सलामी देते हैं पर अम्बेडकर साहब...

  • संसद के अंदर. Understanding the Indian Parliament.
    1 hr 0 min 8 sec

    भारतीय लोकतंत्र में एक सांसद का रोल क्या है हमारी पार्लियामेंट और राज्य विधान सभाओं को और...

  • सीएए और एनआरसी : इंसानों का डिमॉनेटाईसेशन. CAA & NRC.
    1 hr 1 min 33 sec

    In this episode, Saurabh and Pranay discuss how the Citizenship Amendment Act and National Register for Indian Citizens is likely to work on the ground. They also discuss the ways in which these moves will hurt the Indian national interest. ये...

  • सोचे तो सोचे कैसे. Behavioral Economics.
    1 hr 5 min 20 sec

    Puliyabaazi is fifty episodes old now To mark this occasion, we return to discussing a foundational text. In this episode, we discuss insights from Nobel Prize laureate Daniel Kahneman’s classic Thinking, Fast and Slow. The work in this book was...

  • कानपूर से चीन तक. From Kanpur to Kunming.
    1 hr 15 min 26 sec

    In episodes  and  we discussed contemporary China from a political and economic angle. So this episode is about China’s society. We discuss the lived experience of an Indian in smaller cities of China and try to understand the...

  • एक डॉक्टर और. Becoming a Doctor in India.
    37 min 33 sec

    भारत में हर 1668 लोगों के लिए सिर्फ एक डॉक्टर है । इस अभाव के बावजूद मेडिकल कॉलेजों में सीटें इस साल...

  • तारीख़ पे तारीख़. The State of Indian Judiciary.
    52 min 41 sec

    हमारे न्यायतंत्र की ढिलाई से शायद हर इंसान वाक़िफ़ है. तो पुलियाबाज़ी के इस अंक में हमने गोता...

  • जो मेरा है, क्या वो सच में मेरा है? Why Property Rights Matter.
    1 hr 20 min 46 sec

    Property Rights का भारत में एक पेचीदा इतिहास है यह एक ऐसा अधिकार है जिसके बिना बाक़ी सारे संवैधानिक...

  • श्रम कानून में सुधार कैसे लाया जाए? Reforming India’s Labour Laws ft. Bhuvana Anand
    1 hr 15 min 33 sec

    In this episode, Bhuvana Anand, cofounder and director of Trayas, explains how wellmeaning laws often create barriers to employment. She also discusses laws that specifically exclude women’s employment. We discuss some reform trajectories.

  • क्या एमिग्रशन से भारत का नुक़सान हो रहा है? Is emigration hurting India?
    27 min 46 sec

    हाल ही में खबर आई थी कि 2021 में 1 लाख 60 हज़ार भारतीयों ने नागरिकता त्याग दी। देखा जाए तो ये कहानी पहली बार नहीं दोहराई जा रही। एमिग्रशन एक सत्य है और ऐसे विषय पर सौरभ और प्रणय की पुलियाबाज़ी तो बनती है।

  • पंजाब अव्वल नम्बर से उन्नीसवें पर कैसे आगया? How did Punjab drop to the 19th position from being no.1?
    17 min 51 sec

    हाल ही में पंजाब ने अपना बजट पेश किया, और उसी के साथ एक white paper भी। इस बजट के चर्चा में रहने के कई कारण थे। एक ये भी, कि पिछले कुछ समय में पंजाब ने आमदनी की सूची में ख़ुद को उन्नीसवें स्थान पर गिरते हुए देखा है। इस विषय पर सुनिए, इस बार की पुलियाबाज़ी

  • सोशल मीडिया इतना प्रभावशाली क्यों है? What Makes Social Media Powerful?
    25 min 45 sec

    सोशल मीडिया का प्रभाव कितना ज़्यादा है, ये अब कोई छुपी हुई सी बात नहीं... कब हुआ सोशल मीडिया इतना ज़रूरी क्यों हुआ ऐसा क्या प्रभाव है सोशल मीडिया का हमारी आज की ज़िंदगी मेंऐसी ही कुछ विषयों पर है प्रणय और सौरभ की आज की पुलियाबाज़ी

  • अग्निपथ कितना दुर्गम रहने वाला है? How Tough Will Be The Way Of Agnipath?
    19 min 5 sec

    अग्निपथ योजना पर हाल ही में देश में काफ़ी बेचैनी बनी हुई है। इस योजना के अंतर्गत देश के नागरिकों को 3 वर्ष के लिए सेना में भर्ती होने का मौका मिलेगा। इस योजना पर पुलियाबाज़ी पहले भी हुई है और शायद आगे भी होती रहेगी। आज की पुलियाबाज़ी भी इस विषय पर आधारित है।

  • क्या सरकारी नीतियों ने मीडिया को विज्ञापन पर निर्भर कर दिया है? Have government policies made the media dependent on advertising?
    21 min 16 sec

    This is another part of our new endeavor One Question, Many Answers. This time the question is Have government policies made the media dependent on advertising

  • भारत में मैन्युफैक्चरिंग की एक सफल कहानी. What’s it like to Manufacture in India ft. Hema Hattangady
    1 hr 10 min 7 sec

    मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र लंबे समय से भारत की अर्थव्यवस्था की कमजोर कड़ी रहा है। इस क्षेत्र की चुनौतियों और अवसरों को समझने के लिए, हमने किसी ऐसे व्यक्ति से बात की, जिसने भारत में एक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी का निर्माण, संचालन और सफलतापूर्वक निकास किया है।

  • टेक्नोलॉजी अखाड़े के पेच। The Great Tech Game Ft. Anirudh Suri
    1 hr 7 min 34 sec

    टेक्नोलॉजी ने हमारी दुनिया को बहुत तेज़ी से बदल दिया है।  देशों के बीच एक होड़ लगी है कि कहीं टेक्नोलॉजी के इस खेल में वह पीछे न छूट जाए। इस अखाड़े में जीतने के लिए क्या रणनीति अपनायी जा सकती है इस विषय पर चर्चा करने के लिए हमारे साथ जुड़े है “The Great Tech Game” के लेखक अनिरुद्ध सुरी। This week on Puliyabaazi Hindi Podcast, we discuss the geopolitics of the technology game with the author of the book “The Great Tech Game” Anirudh Suri.

  • चीन ने कैसे खेला इनोवेशन का खेल? How did China innovate?
    48 min 44 sec

    टेक्नोलॉजी के रेस में चीन ने नवीनीकरण कैसे लाया क्या ये सिर्फ़ पश्चिमी देशों की नकल करके हासिल हो पाया या चीन ने इनोवेशन को प्रोत्साहन देने किए लिए और भी कदम उठाये सुनिए Geopolitics पर ये पुलियाबाज़ी जिसमें प्रणय अपने रिसर्च से काफ़ी नयी बातें बताते है।   This week on Puliyabaazi, Pranay shares insights from his research on how the Chinese have driven innovation to win in the technology race.

  • अर्थतंत्र को क्यों समझें ? Economics for Everybody ft. Ashish Kulkarni
    1 hr 11 min 31 sec

    On Puliyabaazi, we have hosted many conversations with economists, but this week we talked to an economist about economics itself. Join in to this puliyabaazi with a wonderful teacher of economics and blogger Ashish Kulkarni on why we should study economics, what are its limitations, what tools can be used to bring alive economics for students, and much more.

  • सफ़रनामा: अमरीका से थाईलैंड से केन्या तक। Travelogue from US, Thailand, Kenya
    56 min 24 sec

    This week on Puliyabaazi, we share our notes and observations from our travels from the US to Thailand to Kenya.

  • आज़ादी की राह: चलो याद करें संविधान की महिला रचयिताओं को। Founding Mothers of the Indian Republic ft. Achyut Chetan
    1 hr 14 min 34 sec

    The women in India’s Constituent Assembly had played an important role in shaping our Constitution. However, their contribution has often been ignored or forgotten over the years. This Puliyabaazi is our attempt to remember them and understand the role that they had played in framing our Constitution. On this week’s Puliyabaazi, we talk to Prof. Achyut Chetan who has extensively researched this topic for his book ‘Founding Mothers of the Indian Republic’. Do listen to this very important conversation. We were spellbound by the knowledge and nuance with which Prof. Achyut explained the topic. We hope that you will find it insightful too.

  • आज़ादी की राह : भारत के सटीक नक़्शे कैसे बनें? The Himalayan task of mapping India
    38 min 33 sec

    In this episode, we talk about the story of how the Himalayan task of taking accurate measurements of India across its length and breadth was conducted by the Survey of India. The project, which was of great scientific importance in its times, attempted to study the shape of the earth and made it possible to accurately calculate the heights of the Himalayan giants.

  • भारत का भविष्य हमारे शहर तय करेंगे। Managing India’s Cities ft. Devashish Dhar, Author
    1 hr 10 min 26 sec

    This week on Puliyabaazi, listen to author Devashish Dhar talk about his book “India’s Blind Spot” on our cities being the key to driving India’s growth story.

  • हीरो नं ३: लिथियम । All About Li-Ion Batteries Ft. Apoorv Shaligram, Co-founder & CEO, e-TRNL Energy
    1 hr 5 min 1 sec

    Liion batteries have emerged as the preferred option for many applications like electric vehicles and solar panels. Battery technology will play a crucial role in our transition to EVs. This week, we learn all about Liion batteries, from their chemistry to their geopolitics, from the cofounder and CEO of eTRNL Energy Apoorv Shaligram. Do listen in.

  • AI के खतरे | The Real Perils of AI Ft. Nilesh Trivedi- Technologist and Open Source contributor
    1 hr 5 min 48 sec

    The capabilities of AI Large Language Models is increasing at a lightning pace. Is humanity ready for the disruptions it will cause What are the real dangers of AI that we need to be aware of, beyond the fear around singularity  This week on Puliyabaazi, our resident technology expert Nilesh Trivedi joins us to share his views about Artificial Intelligence. Do listen.  AI की क्षमता में दिन दूनी रात चौगुनी गति से बढ़ोतरी हो रही है। क्या है AI के असली ख़तरे और हमारी दुनिया AI से किस तरह प्रभावित होगी क्या हम इस बदलाव के लिए तैयार हैं इस विषय पर हमारी पुलियाबाज़ी नीलेश त्रिवेदी के साथ।

  • सरकारी काबिलियत लोकनीति को कैसे प्रभावित करती है? Public Policy in India ft. Ajay Shah
    1 hr 16 min

    This week on Puliyabaazi, we deep dive into the world of Public Policy in India with Prof. Ajay Shah and his book ‘In Service of the Republic’. What are the frameworks that can help us utilise our limited state capacity effectively And how do we contribute towards strengthening our state capacity We discuss this and much more, so listen in.

  • भारत में एविएशन का इतिहास। The History of Aviation in India ft. Aashique Iqbal
    1 hr 6 min 26 sec

    In this Puliyabaazi, we discuss the history of Indian Aviation, under what circumstances was the Indian Air Force established and what it reveals about the process of decolonisation with historian and author Aashique Iqbal.

  • AI - औज़ार या कलाकार? Generative AI and Art ft. Khyati Pathak
    47 min 16 sec

    With DALLE, a machine learning tool to create images from text having gone open access last week, we discuss the implications of AI for art and artists with cartoonist and writer Khyati Pathak.

  • समाज, सरकार, और बाज़ार की जुगलबंदी। Society, States, and Markets ft. Rohini Nilekani
    57 min 10 sec

    हम अक़्सर कहते है कि समाज, सरकार, और बाज़ार के बीच तालमेल बढ़ाने की ज़रूरत है। इस संतुलन को कैसे समझा जाए आप और हम क्या भूमिका अदा कर सकते हैं इन्हीं कुछ सवालों पर चर्चा लेखिका और philanthropist रोहिणी निलेकणी के साथ।

  • दिल्ली की Excise नीति से हमें क्या सबक मिलता है? What Can We Learn From Delhi's Excise Policy?
    18 min 23 sec

    कहते हैं हर नीति अच्छी राजनीति नहीं होती। शायद ऐसा ही कुछ हुआ दिल्ली की excise नीति के साथ। इसी विषय पर सुनिए सौरभ और प्रणय की पुलियाबाज़ी।

  • ताईवान मुद्दे पर भारत का रवैया क्या होना चाहिए? What should be India's stance on Taiwan issue?
    16 min 51 sec

    भरत ने चीनताइवान मुद्दे पर अभी तक आगे आ कर कुछ ठोस नहीं कहा है। माना जा रहा है कि अगर ये मुद्दा और आग पकड़ता है तो हमें शायद एक और यूक्रेनरूस देखने मिल सकता है।इस विषय पर भारत का रवैया कैसा होना चाहिए... इसी पर है हमारी आज की पुलियाबाज़ी।

  • 1991: एक क्रांति. When India Changed Forever
    1 hr 40 min 23 sec

    १९९१ में भारत में एक सामाजिक और आर्थिक क्रांति आई। आर्थिक सुधारों ने 25 करोड़ भारतियों को गरीबी से निकाला और भारत को विश्व भर में एक नयी पहचान दी।

  • भारतीय इस्लाम. Indian Islam.
    1 hr 41 min 2 sec

    आये दिन ऐसा लगता है सांप्रदायिक मनमुटाव बढ़ता जा रहा है। हिन्दूमुसलमान पुलियाबाज़ी सिर्फ बयानबाज़ी रह गयी है।

  • हवा हवा ये हवा. Tackling Air Pollution in India.
    1 hr 1 min 14 sec

    सर्दी के दिन आते ही दिल्ली की वायु प्रदूषण समस्या की खबरें आने लगती है और कुछ ही दिनों में ऐसी ख़बरें गायब भी हो जाती है।

  • भारतीय भाषाओँ में हमारे अतीत के सुराग़. Clues to our past in Indian languages.
    1 hr 36 min 1 sec

    In this episode, linguist Peggy Mohan joins Saurabh and Pranay to discuss clues to our past in our languages.

  • 1991 आर्थिक सुधारों की राजनीतिक पृष्ठभूमि. The Political Economy of 1991 Reforms.
    1 hr 30 min 43 sec

    In this episode, Prakhar Misra PrakharMisra is back on Puliyabaazi to discuss the political economy of the 1991 reforms.

  • अंबेडकर का घोषणा पत्र। Ambedkar’s Manifesto for India.
    55 min 50 sec

    In this Constitution Day Special episode, we discuss Dr. Ambedkar’s ideas through the only election manifesto he ever wrote. Listen in.

  • Web3: Promises and Perils. वेब३: वरदान या ढकोसला?
    1 hr 18 min 46 sec

    Nilesh Trivedi nileshtrivedi joins us again on Puliyabaazi to discuss the hype and promise of web3. We discuss cryptocurrencies, DAOs, NFTs, geopolitics, and more. Nilesh is a web, mobile opensource software writer.

  • कोविड काल में चीन की राजनीति. China's Political Narratives on COVID - 19
    1 hr 17 min 24 sec

    Manoj Kewalramani theChinaDude is back on Puliyabaazi to discuss China’s narrative management during the pandemic.

  • #By2 Petrol की क़ीमत, North-South भेद, चीन की Three Child Policy
    1 hr 4 min 12 sec

    In this By2 episode, Saurabh and Pranay discuss three questions:

  • एक अच्छे शहर का मतलब क्या है? Urbanisation Done Right.
    1 hr 10 min 51 sec

    हमारे समाज की समृद्धि के लिए शहरीकरण ज़रूरी है। इसके बावजूद हमारे शहरों की अवस्था को देखकर अक्सर खीज और निराशा के भाव मंडराने लगते है। तो इस एपिसोड में हमने बात की शहरी नियोजक डॉ. अंजली करोल मोहन से एक अच्छे शहर की संकल्पना पर।

  • एक देश, कईं भाषाएँ, एक लिपि। Many Languages, One Script.
    48 min 53 sec

    Most Indian languages share the same phonetic structure and yet have vastly different scripts, making communication across languages difficult.

  • आरक्षण, लोकतंत्र, यूनिवर्सिटी. Reservations, Democracy, and Universities
    1 hr 29 min 30 sec

    In this By2, Saurabh and Pranay discuss the ongoing case in the Supreme Court on increasing the reservation cap beyond 50 and the role of universities in society. In the KBP section, they discuss listener questions.

  • भारत में रिटेल का बदलता नक़्शा. The Changing Face of Retail in India
    1 hr 0 min 9 sec

    How has the retail sector sector evolved in India Why does India have so many small shops How is technology impacting retail trade How did the concept of “Sachetisation” come about We discuss these questions and more in this deepdive on Indian retail

  • सामाजिक न्याय की क़श्मक़श. Affirmative Action in India.
    57 min 31 sec

    Deborah Stone in her textbook Policy Paradox, describes the paradox of distribution thus: “equality often means inequality, and equal treatment often means unequal treatment. The same distribution may look equal or unequal, depending on where you focus.”

  • दूसरे देशों के झगड़ों में क्यों पड़े? International Peace Mediation and India.
    54 min 42 sec

    In the past, India has played a significant role in mediating peace in conflicts involving major powers. However, this zeal has waned over the last few decades. In this episode, Raja Karthikeya, who has worked on several peace issues in West Asia, argues

  • विद्रोह डॉट कॉम. Radically Networked Protests.
    52 min 12 sec

    Last few days witnessed two significant moves by radically networked societies. Retail investors rallied around a stock to take on a hedge fund management company in the US. Meanwhile, tweets by US celebrities on the ongoing farmer protests in northern In

  • एक जन संविधान. A People’s Constitution.
    1 hr 16 min 18 sec

    Contrary to some notions that the Indian Constitution is as an elitist document far removed from the Indian populace, the document in fact profoundly transformed everyday life of ordinary Indians, in mostly desirable and sometimes unintended ways.

  • सरकार और बाज़ार : कभी नीम नीम कभी शहद शहद. State-Corporate Relations in India.
    1 hr 20 min 56 sec

    In this episode, political scientist and economic historian Rohit Chandra rohitreads gives an account of businessstate relations in India over the last two decades. In this wideranging conversation, we discuss trends of market concentration since 201

  • 100 नॉट आउट. 100 Not Out.
    1 hr 41 min 56 sec

    और सुनतेसुनाते, पुलियाबाज़ी का शतक पूरा हो गया। तो ये वाली पुलियाबाज़ी पुलियाबाज़ी पर ही है। इस सेंचुरी एपिसोड के स्पेशल होस्ट है विनीत देवैया VineetDevaiah.

  • 1991 आर्थिक सुधार: एक आंखोदेखा हाल. 1991 Reforms: a close-up with Jairam Ramesh
    1 hr 5 min 41 sec

    In this episode, a wellknown politician and historian Jairam Ramesh joins us to discuss the 1991 reforms. This episode is based on his 2015 book To the Brink and Back: India’s 1991 Story.

  • एक सवाल, कई जवाब: रूस, हम आपके है कौन? Russia, Hum Aapke Hai Kaun?
    14 min 27 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का पहला अंक है। इस बार का सवाल है रूस, हम आपके है कौन

  • एक सवाल, कई जवाब: जैविक खेती ने श्रीलंका का कैसे सत्यानाश कर दिया? How did organic farming affect Sri Lanka?
    15 min 30 sec

    ये हमारी नई कोशिश एक सवाल, कई जवाब का एक अंक है। इस बार का सवाल है जैविक खेती ने श्रीलंका का कैसे सत्यानाश कर दिया

  • सरकार का पैसा आख़िर जाता कहाँ है? Understanding India’s Public Finance ft. Avani Kapur
    1 hr 27 min 21 sec

    एक आम इंसान के रोज़मर्रा जीवन में कौनसी लेवल की सरकार ज़्यादा माईने रखती है

  • एक सवाल, कई जवाब: क्या आर्थिक वृद्धि खुशहाली के लिए ज़रूरी है? Is economic growth necessary for well-being?
    17 min 6 sec

    World Happiness Index में भारत के 136वें स्थान पाने पर, समाज में एक सवाल छिड़ चुका है कि जिस देश के लोग खुश ही नहीं... वह देश आर्थिक वृद्धि पर इतना ज़ोर दे कर क्या करेगा

  • स्टार्टअप वादी. Indus Valley of the Information Age.
    1 hr 28 min 21 sec

    ये पुलियाबाज़ी है भारत के उभरते tech ecosystem पर. इसके कल, आज, और कल पर एक गहरी चर्चा सजित पई sajithpai के साथ.

  • हमारी क़ानून व्यवस्था का रिपोर्ट कार्ड. The State of Law & Order Machinery in India.
    1 hr 5 min 31 sec

    इंडिया जस्टिस रिपोर्ट एक ऐसी रिपोर्ट है जो सभी राज्यों की क़ानून व्यवस्था की तुलना करती है। इस बार हमने बात की है वलय सिंह से, जो टाटा ट्रस्ट्स में प्रॉजेक्ट लीड है और इस रिपोर्ट को बनाने वाली टीम में शामिल है।

  • न्यायपालिका बनाम विधायिका? Basic Structure Doctrine
    27 min 5 sec

    संविधान का बुनियादी ढांचा भारतीय संविधान की एक अनोखी विशेषता है।  हालिया विधायिका और न्यायपालिका के बीच इसी को लेकर काफी तनाव चल रहा है तो कौन है सर्वोपरि न्यायपालिका या फिर विधायिका या हमारा संविधान और संविधान के मूल्य  इस गणतंत्र दिवस पर हमारी पुलियाबाज़ी इस विषय पर।  This RepublicDay we discuss the ongoing tension between the judiciary and the legislative over the Doctrine of Basic Structure of our Constitution. Do listen in.

  • विदेशी विश्वविद्यालयों को भारत का न्योता? UGC Draft Regulation 2023
    24 min 55 sec

    UGC’s Draft Regulation 2023 will allow foreign universities to set up campuses in India. क्या विदेशी विश्वविद्यालयों को भारत में लाने की ये कोशिश ठीक है इस हफ्ते की पुलियाबाज़ी UGC के Draft Regulation पर.

  • बौद्धिक सम्पदा: पेटेंट, कॉपीराइट, और ट्रेड सीक्रेट की कहानी. Intellectual Property Rights.
    1 hr 32 min 53 sec

    बौद्धिक सम्पदा: पेटेंट, कॉपीराइट, और ट्रेड सीक्रेट की कहानी कोका कोला के ट्रेड सीक्रेस्ट...

  • सेमीकंडक्टर दंगल : अमेरिका, चीन और सिकिया पहलवान भारत. Siliconpolitik.
    1 hr 14 min 32 sec

    The semiconductor microchip is perhaps the greatest modernday innovation breakthrough. It made radios, TVs, computers, and phones happen. Today, a processor microchip has billions of components and is created using a complex supply chain involving...

  • क्या राष्ट्रवाद भी लिबरल हो सकता है? Liberal Nationalism.
    53 min 57 sec

    भारतीय राष्ट्रवाद की ख़ासियत यह है कि वह शुरुआत से ही उदारवादी रहा है लेकिन आज के ध्रुवीकृत...

  • अम्बेडकर के जातिप्रथा पर विचार : भाग २. Ambedkar on Caste Part 2
    36 min 49 sec

    पूरे भारत ने अपना सत्तरवाँ गणतंत्र दिवस पिछले हफ़्ते मनाया और अंबेडकर के योगदान को फिर एक बार...

  • आज़ाद भारत का रिपोर्ट कार्ड. Independent India's Report Card.
    41 min 38 sec

    पुलियाबाज़ी के इस Independence Day Special अंक में प्रस्तुत है हमारे दृष्टिकोण से आज़ादी का लेखाजोखा कौनसी...

  • फिलॉसफी का फ़लसफ़ा. Why Philosophy Matters.
    1 hr 24 min 7 sec

    Karl Popper once said “We are all philosophers we all accept certain philosophical theories, if only unconsciously.” But what does the formal academic discipline of philosophy entail

  • भारत की ऊर्जा - कोयले से परमाणु तक. India's Energy Future.
    1 hr 13 min 42 sec

    Energy security — what does it really mean Can a country like India, heavily dependent on imports for its energy demands ever become energy secure What are the global trends on oil, natural gas, nuclear, and renewable sources of energy These are...

  • इस्लामिक स्टेट की हार. The Fall of the ISIS.
    1 hr 3 min 37 sec

    The Islamic State of Iraq and Syria finally met its demise with the death of Abu Bakr alBaghdadi on October 26th. So in this episode of Puliyabaazi we take a look at ISIS, its recruitment methods, its use of technology, and its bureaucracy. We also...

  • बिटकॉइन - एक क्रांतिकारी सोच. What's new about Bitcoin?
    39 min 21 sec

    ऐसा क्या है बिटकॉइन में कि इस व्यवस्था ने सब सरकारों को चौकन्ना रहने पर मजबूर कर दिया है जानिये...

  • प्रयोगशास्त्र : रैण्डमाइस्ड कंट्रोल ट्रायल की कहानी. Understanding RCTs.
    1 hr 7 min 57 sec

    Abhijit Banerjee, Esther Duflo, and Michael Kremer won the Nobel Prize in Economics 2019 “for their experimental approach to alleviating global poverty”. This experimental approach — Randomised Control Trials RCTs — is an alternative paradigm for co

  • भारत में वाहनों का इलेक्ट्रिक भविष्य. Electric Vehicles in India.
    1 hr 13 min 6 sec

    What does the future of electric vehicles and electric storage in India look like Charging stations or battery swapping which model is better for Indian conditions What role can the government play to encourage this industry We take stock of the EV r

  • दास्ताँ-ए-बलोचिस्तान. Understanding Balochistan.
    1 hr 0 min 35 sec

    बलोचिस्तान आजकल भारत में एक बहुचर्चित विषय हो गया है प्रधानमंत्री मोदी ने तीन साल पहले अपने...

  • रन-नीति : क्रिकेट में डेटा क्रांति. Cricket and Data Science.
    1 hr 12 min 19 sec

    क्रिकेट एक ऐसा विषय है जिसमे हम सभी ज्ञानी है लेकिन क्या आपको पता था कि डेटा साइंस के प्रयोग से...

  • यह लिबरल आख़िर है कौन? Foundational Ideas of Liberalism.
    1 hr 10 min 56 sec

    लिबरलिस्म अर्थात स्वातंत्रवाद आज एक विस्फोटक शब्द हो गया है लेकिन ये लिबरल होने का आख़िर मतलब...

  • ख़ुफ़िया बातें. Espionage, India Style.
    41 min 52 sec

    जासूसी एक ऐसा पेशा है जिसके बारे में न सिर्फ हम कम जानते है बल्कि अक़्सर सरासर ग़लत भी जानते है ...

  • भाग राकेट भाग : भारत के अंतरिक्ष प्रोग्राम की कहानी. India's Audacious Space Programme.
    1 hr 1 min 52 sec

    अंतरिक्ष खोजने की चाह हज़ारों साल पुरानी है। लेकिन अंतरिक्ष तक पहुंचने की क्षमता केवल सत्तर साल...

  • Arthashashtra Part 2 : Foreign Policy कैसे होनी चाहिए?
    48 min 6 sec

    Real estate से लेकर business advice तक, कौटिल्य नीति को बिना सिर पैर उपयोग करने की होड़ लगी है आजकल अर्थशास्त्र को...

  • तूफ़ान-ए-तुर्क में रूपया बेहाल. Currency Wars.
    48 min 9 sec

    आर्थिक जगत में मुद्रा युद्ध की हवा चल रही है टर्की और अमरीका के बीच शुरू हुई यह आंधी भारत तक...

  • चीन : एक खोज - भाग 1. The Discovery of China Part 1.
    58 min 34 sec

    कहने के लिए तो चीन हमारा पडोसी देश है पर वास्तव में हम चीन के बारे में बहुत कम जानते है इस...

  • भारत और अफ़ग़ानिस्तान : काबुलीवाला से तालिबान तक. Understanding Afghanistan.
    1 hr 6 min 49 sec

    क्या एक RAW अफसर की जिंदगी टाइगर के सलमान जैसी होती है तालिबान की बर्बरतापूर्ण सरकार को...

  • सभी का ख़ून है शामिल यहाँ की मिट्टी में. We are all foreigners.
    56 min 26 sec

    राहत इंदौरी के शब्दों में – ‘सभी का ख़ून है शामिल यहाँ की मिट्टी में, किसी के बाप का हिन्दोस्तान...

Language

Hindi

Genre

News, Society & Culture, Government

Seasons

1